यूपी बाल सेवा योजना 2021 - Online Apply & Registration

यूपी बाल सेवा योजना 2021 :-

2019 में कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को झंझोर के रख दिया | कोरोना वायरस का प्रकोप न सिर्फ भारत में देखने को मिला बल्कि पूरी दुनिया इससे अछूती नहीं रही | पूरा विश्व इसके खौफ से सहज गया और सभी की जिंदगी वही रूक गयी | पूरा विश्व कुछ समय के लिए थम सा गया | कोरोना महामारी में बहुत से लोगो ने अपनों को खोया है ये वो दर्द है जो वो कभी नहीं भूल पाएंगे | ऐसे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने अपने नागरिको के सामने आगे आके इस समस्या का  जिम्मा लिया और सहायता देने का प्रावधान रखा गया है | इस यूपी बाल सेवा योजना के तहत उन बालको को मदद देने का प्रावधान है जिसके माता या पिता या फिर दोनों कोरोना महामारी में मृत हो गए है | उन बालको को बाल सेवा योजना के द्वारा सहायता दी जाएगी | ऐसे में प्रदेश में 197 बालक ऐसे है जिनके अभिभावक नहीं रहे जबकि 1799 बालक ऐसे है जिनके माता या पिता में से कोई एक अब इस दुनिया में नहीं रहे | योजना के तहत बालको को आर्थिक मदद देने का प्रावधान निश्चित किया गया है | 




बाल सेवा योजना की शर्ते :

  • यूपी बाल सेवा योजना के अंतर्गत आईटीआई प्रशिक्षु को भी लाभ देने का निर्णय लिया है | 8 जून 2021 को राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था के प्रधानाचार्य डॉक्टर नरेश कुमार जी ने पात्रता की शर्ते जारी की | सभी पात्र लाभार्थियों को लैपटॉप, टेबलेट और विवाह के लिए आर्थिक सहायता एवं प्रतिमाह सहायता राशि प्रदान की जाएगी | जो भी आईटीआई प्रशिक्षु इस योजना का लाभ उठाना चाहते है उन्हें अपने ज़िले के नोडल आईटीआई में आवेदन करना होगा | आईटीआई प्रशिक्षु के लिए पात्रता की शर्ते इस प्रकार है :
  • प्रशिक्षु की आयु 18 वर्ष या कम होनी चाहिए | 
  • आवेदक के माता पिता की मृत्यु कोविद 19 के संक्रमण के कारण होनी चाहिए | 
  • यदि आवेदक के माता या पिता में से किसी भी एक की मृत्यु कोरोना संक्रमण से पहले हुई हो और दूसरे की मृत्यु कोरोना संक्रमण से हुई हो तो वह इस योजना का लाभ उठा सकता है | 
  • यदि किसी के माता पिता दोनों जीवित है लेकिन कमाई करने वाले अभिभावक की मृत्यु कोरोना संक्रमण से हुई है और जीवित माता पिता की वार्षिक आय 2 लाख या फिर उससे कम हो तो इस स्थिति में भी इस योजना का लाभ उठाया जा सकेगा | 

यूपी बाल सेवा योजना विवरण :-


Scheme Name

UP Bal Sewa Yojana

Launched By

State Government of Uttar Pradesh

Year

2021

Objective

To provide Financial Assistance

Beneficiary

Children who lost their Parents during COVID-19 Pandemic

Financial Assistance Offered

Rs 4000/Month

Registration Procedure

Online/Offline

 




बाल सेवा योजना रजिस्ट्रेशन की पात्रता : 

  • सबसे पहले आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थायी होना चाहिए | 
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष या कम होनी चाहिए | 
  • एक ही परिवार के सभी बच्चे इस योजना के लाभार्थी बन सकते है | 
  • जीवित माता पिता में से एक अभिभावक की आय 2 लाख या उससे कम होनी चाहिए | 
  • जिन भी बच्चो ने कोरोना महामारी में अपने माता पिता को खोया है वह इस योजना के पात्र बन सकते है | 
  • इच्छुक नागरिको को सबसे पहले इस योजना के अनुसार अपना पंजीकरण करवाना होगा | उसके बाद उनके दस्तावेजों की जांच की जाएगी | दस्तावेजों की जाँच के बाद ही उन्हें 15 दिन के भीतर धन राशि प्रदान की जाएगी |  यूपी बाल सेवा योजना में एक और प्रावधान रखा गया है की सभी कन्याओं को अलग से आवास की सुविधा दी जाएगी ताकि वे बच्चे भी अपना जीवन यापन आसानी से कर सके | 

बालिकाओं को मिलने वाली आर्थिक सहायता :-

यूपी राज्य की वो सभी बालिकाएं जिन्होंने अपने माता-पिता को इस महामारी मे खोया है और बहुत ही प्रभाबित हुई है उन सभी बालिकाओं को राज्य सरकार उनके विवाह के समय १०१००० रुपए की आर्थिक सहायता करेगी। ये आर्थिक सहायता आवेदन करने के १५ दिन के अंदर आवेदन करने वाले के बैंक खाता Transfer कर दिए जायेंगे।

बल सेवा योजना के महत्वपूर्ण दस्तावेज :

  • उत्तर प्रदेश के निवासी होने का घोसणा पत्र 
  • बच्चे का आयु प्रमाण पत्र 
  • बच्चे एवं अभिभावक की नयी फोटो आवेदन पत्र के साथ 
  • माता पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र 
  • आय प्रमाण पत्र 
  • शिक्षण संस्थान में रजिस्ट्रेशन का प्रमाण पत्र 
  • कोरोना संक्रमण से मृत्यु होने का प्रमाण पत्र 


बाल सेवा योजना पत्र जमा करने की विधि :

  • सबसे पहले यदि आवेदक ग्रामीण क्षेत्र से संबंधित है तो उन्हें अपने नजदीकी ग्राम विकास या ग्राम पंचायत अधिकारी के कार्यालय में जाना होगा | 
  • उसके बाद उन्हें आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा | 
  • आवेदन पत्र में पूछी गयी सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरकर ( जैसे नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल इत्यादि ) इसके साथ लगने वाले सभी दस्तावेजों को अटैच करें | 
  • सभी जानकारी की प्राप्ति के बाद दस्तावेजों को एवं बाल सेवा योजना फॉर्म को उसी कार्यालय में जमा करवाएं | 


बाल सेवा योजना 2021 के लाभ :

  • इस योजना के तहत उन सभी बच्चो को मदद मिलेगी जिनके माता पिता की मृत्यु कोरोना संक्रमण के कारण हुई है | 
  • यूपी बाल सेवा योजना के माध्यम से न केवल बच्चो की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी बल्कि उनकी पढ़ाई से लेकर उनके विवाह तक का खर्चा सरकार वहन करेगी | 
  • सभी पात्र बच्चो के पालन पोषण के लिए प्रतिमाह उनको रूपये 4000 की सहायता प्रदान की जाएगी | यह सहायता बच्चे के व्यस्क होने तक प्रदान की जाएगी | 
  • सभी कन्याओं की शादी के लिए रुपए 101000 की आर्थिक मदद की जाएगी | 
  • योजना के माध्यम से सभी पढ़ाई कर रहे बच्चो को लैपटॉप या टेबलेट प्रदान किया जायेगा | 


Post a Comment

0 Comments